अवैध कॉल सेंटर के मास्टरमाइंड को साइबर क्राइम पुलिस ने किया जयपुर से गिरफ्तार

क्राइम रिपोर्टर
भोपाल, 13 सितंबर। राजधानी भोपाल साइबर थाना पुलिस द्वारा विगत 7 सितंबर थाना पिपलानी क्षेत्र स्थित इंद्रपुरी में एक फर्जी कॉल सेंटर का पर्दाफाश किया गया था। फर्जी कॉल सेंटर रात की शिफ्ट में संचालित किया जाता था। फर्जी कॉल सेंटर संचालित करने वालेेे खुद को इंफोर्समेंंट अधिकारी बता कर अमेरिकन नागरिकों से ठगी करते थे।
साइबर पुलिस भोपाल एसपी राजेश भदौरिया के अनुसार फर्जी कॉल सेंटर संचालित करने वालों के पास से लगभग 12 लाख अमेरिकी नागरिकों का डाटा मिला था। भोपाल में फर्जी कॉल सेंटर आरोपी अभिषेक पाठक एवं उसकी टीम द्वारा संचालित किया जा रहा था। प्राप्त जानकारी के अनुसार भोपाल में संचालित फर्जी कॉल सेंटर के आरोपियों से पूछताछ में साइबर थाना पुलिस को फर्जी कॉल सेंटर के मास्टरमाइंड आरोपी टीकम थेनुआ उम्र 25 साल निवासी हाथरस उत्तर प्रदेश का पता चला। थाना साइबर थाना पुलिस भोपाल ने साइबर पुलिस भोपाल एसपी राजेश भदौरिया के मार्गदर्शन में योजनाबद्ध तरीके से साइबर पुलिस टीम ने जयपुर राजस्थान में चल रहे अमेरिकी नागरिकों को ठगने वाले अवैध कॉल सेंटर में दबिश दी। साइबर पुलिस टीम द्वारा कॉल सेंटर में काम कर रहे 15 व्यक्तियों को हिरासत में लेकर थाना शिप्रापथ, जयपुर को सुपुर्द कर भोपाल में चल रहे अवैध कॉल सेंटर के मास्टरमाइंड आरोपी टीकम थेनुआ को गिरफ्तार कर जयपुर से भोपाल लाया गया। आरोपी टीकम थेनुआ भोपाल में संचालित हो रहे अवैध कॉल सेंटर के संचालक आरोपी अभिषेक पाठक को सलाह एवं अवैध कॉल सेंटर संचालित करने में उपयोग की जाने वाली साइबर तकनीकी उपलब्ध कराने के साथ ही मास्टरमाइंड आरोपी टीकम थेनुआ अमेरिकी नागरिकों से प्राप्त होने वाली राशि हवाला एवं बिटकॉइन के माध्यम से प्राप्त करने में आरोपी अभिषेक पाठक की पूरी मदद करता था। भोपाल में संचालित अवैध कॉल सेंटर कि आरोपी अभिषेक पाठक ने साइबर थाना पुलिस को आरोपी टीकम थेनुआ की मदद से प्राप्त अमेरिकी नागरिकों का डाटा पुलिस को दिया जा चुका है। साइबर क्राइम पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है पुलिस को उम्मीद है कि आरोपियों से और भी अवैध कॉल सेंटरों का खुलासा हो सकता है। साइबर पुलिस टीम ने जयपुर में न केवल आरोपी टीकम थेनुआ को तलाश किया बल्कि जयपुर में चल रहे अवैध कॉल सेंटर का भी पर्दाफाश किया।