लक्जरी दफ्तर को त्यागकर टेंट में शिफ्ट हुए डीजीपी अवस्थी

टेंट-नुमा दफ्तर में बैठकर ही दर्जन भर से अधिक अफसरों का कर चुके हैं प्रमोशन
रायपुर। कोरोना वायरस के संक्रमण कोरोना को फैलने से रोकने के लिए किए लॉकडाउन में छत्तीसगढ़ के डीजीपी डीएम अवस्थी का एक नया ठिकाना बन गया है। डीजीपी अवस्थी ने लॉकडाउन के ऐलान के बाद से ही अपने लग्जरी दफ्तर को त्याग दिया है। डीजीपी ने रायपुर स्थित पुराने पुलिस मुख्यालय परिसर में टेंट बनवाकर बीतें 23 दिनों से इसी टेंटनुमा दफ्तर से ही अपना सारा काम ऑपरेट कर रहे हैं और तो और इस दौरान DGP अवस्थी ने इसी अस्थायी दफ्तर में बैठकर ही दर्जन भर से अधिक अफसरों का प्रमोशन भी कर चुके है..हालांकि इस दौरान वे सोशल डिस्टेंसिंग व तमाम मेडिकल प्रीवेंटिव प्रोटोकॉल का पूरे गम्भीरता से पालन करते नज़र आ रहे हैं।बता दें कि इस नये टेंट वाले दफ्तर में एसी भी नहीं लगा है। माना जा रहा है कि एसी से संभावित संक्रमण फैलने के खतरे को ध्यान में रखते हुए डीजीपी ने ये निर्णय लिया है।वैसे यहां यह भी बताना लाज़िमी होगा कि अपने आला अधिकारी के नक्शे कदम पर ही चलते हुए रायगढ़ एसपी संतोष कुमार सिंह भी लॉक डाउन के घोषणा के बाद से ही स्वयं को घर में आइसोलेट कर चुके है इस दौरान वे भी अपने परिवार व बच्चों से दूरी बनाएं हुए हैं।