मप्र के 4 जिलों में हादसे 13 लोगों की मौत

मुख्यमंत्री ने दुख व्यक्त किया, की सहायता की घोषणा

भोपाल/बैतूल/सागर/मंडला/बुरहानपुर, 17 नवंबर। मध्यप्रदेश में मंगलवार को अलग-अलग हादसों में 13 लोगों की मौत हो गई, इन हादसों में पहला हादसा बैतूल जिले का है, जिसमें ट्रक तवा नदी में गिर गया और इसमें सवार मजदूर और चालकों की मौत हो गई, वहीं सागर जिले के राहतगढ़ वाटर फॉल में डूबने से एक ही परिवार के 5 लोगों की मौत हो गई, मंडला और बुरहानपुर जिलों में भी एक-एक मौतें सड़क हादसों में हुई हैं और कई घायल हुए हैं। जबलपुर में एक पिकअप वाहन पलट गया जिसमें सवार 35 मजदूर घायल हुए हैं।
ट्रक हादसे में क्षत-विक्षत हो गए मजदूरों के शव
बैतूल जिले के घोड़ाडोंगरी तहसील के चोपना थाना क्षेत्र के तवा पुल से मंगलवार सुबह एक ट्रक नीचे गिर गया, ट्रक के नीचे दबने से छह लोगों की मौके पर ही मौत हो गई है, मरने वालों में ट्रक चालक और पांच मजदूर शामिल हैं, हादसे के दौरान तीन लोगों की मौत का पता चला था और बाकी लोगों के दबे होने की खबर थी, लेकिन अब तक ट्रक में फंसे 6 शव बाहर निकाल लिए गए हैं, सरियों से भरे ट्रक में फंसने से मजदूरों के शव बुरी तरह से क्षत विक्षत हो गए थे, उन्हें पॉलीथिन में भरकर अस्पताल लाना पड़ा।
एक ही परिवार के 5 लोगों की डूबने से मौत
बीना नदी पर बने राहतगढ़ वाटरफॉल में छह लोग डूब गए, जिसमें से पांच लोगों की मौत हो गई है और एक बच्ची की जान बच गई है, गंभीर रूप से घायल बच्ची को फिलहाल अस्पताल में भर्ती कराया गया है, वहीं अब तक तीन शव मिल चुके हैं और दो की तलाश जारी है। जानकारी के मुताबिक राहतगढ़ वाटरफॉल बीना नदी पर बना हुआ है, यहां अक्सर लोग पिकनिक मनाने आते हैं और इसकी देख रेख वन विभाग करता है, बताया जा रहा है कि वॉटरफॉल के नीचे गहरे पानी के कुंड में डूबने से इन लोगों की मौत हुई है। थाना प्रभारी के मुताबिक सागर जिले के रहने वाले नजीर और उनका परिवार राहतगढ़ वाटरफॉल के पास पिकनिक मना रहे थे और नहाते वक्त वाटरफॉल में छह लोग डूबे जिनमें से पांच लोगों की मौत हो गई और एक बच्ची को सुरक्षित बाहर निकाला गया है, बच्ची को तुरंत अस्पताल भिजवाया गया है, जहां उसका इलाज जारी है, वहीं शवों को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज गया है।
पलटा मजदूरों से भरा लोडि़ंग वाहन
जबलपुर जिले के चरगवां रोड पर घुघरी गांव में एक पिकअप वाहन तेज रफ्तार होने के कारण अनियंत्रित होकर पलट गया, इस हादसे में 35 मजदूर घायल हो गए हैं, जानकारी के मुताबिक ये मजदूर खेत में लगी मटर तोडऩे के काम से शहपुरा जा रहे थे, तभी ये हादसा हुआ, घायलों को इलाज के लिए मेडिकल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।
वहीं मंडला जिले के नारायणगंज से महाकाल ट्रेवल्स की बस सवारियां लेकर तेज रफ्तार में डिंडौरी की तरफ जा रही थी, जैसे ही बस टिकरिया थाना क्षेत्र के महुआटोला के पास पहुंची, वैसे ही सामने से आ रहे एक बाइक सवार को बस ने जोरदार टक्कर मार दी, जिसमें बाइक सवार युवक की घटना स्थल पर मौत हो गई, बस में बैठे 12 से ज्यादा यात्रियों को भी चोट आई हैं। बुरहानपुर जिले के नेपानगर में दरियापुर गांव के पास दो बाइकों की आपस में हुई जोरदार भिड़त, इस भिड़ंत में पांच लोग जख्मी हो गए, घायलों में एक व्यक्ति की हालत नाजुक बताई जा रही है, मौके से घायलों को राहगीरों ने एंबुलेंस 108 की सहायता से जिला अस्पताल पहुंचाया।

मजदूरों की मृत्यु पर, वाटर फाल की घटना पर दुख व्यक्त
भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बैतूल जिले के चोपना क्षेत्र में तवा नदी में ट्रक के गिर जाने से 6 मजदूरों की मृत्यु हाने पर गहरा दुख व्यक्त किया है और दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की है। मुख्यमंत्री ने मृतक श्रमिकों के परिजनों को इस दुख को सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना ईश्वर से की। उन्होंने बैतूल जिला प्रशासन को मृतक श्रमिकों के परिवार को राहत सहायता प्रदान करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सागर जिले के राहतगढ़ वाटरफाल में पिकनिक मनाने गए परिवारों के पाँच सदस्यों की डूबने से मृत्यु होने पर गहन शोक व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने सागर जिला प्रशासन को प्रावधान अनुसार राहत सहायता देने के निर्देश दिए हैं। डूबने से मृत व्यक्तियों के परिजनों को दु:ख सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना ईश्वर से की है।