सड़क हादसे को लेकर कमल पटेल ने दिखाई संवेदनशीलता

घायलों को अपने वाहन से इलाज के लिए भेजा
भोपाल/हरदा, 19 नवंबर। इंदौर हरदा स्टेट हाईवे के ग्राम चापड़ा में तेज रफ्तार डंपर ने कार सवार परिवार को अपनी चपेट में ले लिया। हादसे के समय वहां से गुजर रहे कृषि मंत्री कमल पटेल ने संवेदनशीलता का परिचय देते हुए तत्काल अपनी गाड़ी रुकवा कर पीडि़तों की मदद के लिए दौड़ लगा दी। उन्होंने घायलों को दुर्घटनाग्रस्त कार से उतारकर अपने काफिले में शामिल गाडिय़ों से इलाज के लिए रवाना किया। कमल पटेल ने इस रोड पर ओवरलोड दौड़ रहे डंपरों से हादसे की आशंका जताते हुए कुछ देर पहले ही चापड़ा में एसपी और कलेक्टर को सख्त कार्रवाई के लिए निर्देशित किया था, इसके बाद वह जरा ही आगे बढ़े थे तभी यह हादसा हो गया। कमल पटेल अपनी गाड़ी रुकवा कर तुरन्त दुर्घटनाग्रस्त कार के समीप पहुंचे, कार में एक ही परिवार के चार लोग सवार थे और सभी इस हादसे में घायल हो गए थे। कृषि मंत्री कमल पटेल ने घायलों को दुर्घटनाग्रस्त हुई कार से उतारकर अपने काफिले के वाहनों से इलाज के लिए देवगुराडिया में डॉक्टर रवि वर्मा के पास रवाना कर दिया। उन्होंने डॉ. वर्मा से फोन पर बात कर समुचित इलाज के इंतजाम करने के लिए कहा।
कृषि मंत्री कमल पटेल ने दुर्घटना स्थल से ही फिर पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों से चर्चा की और मौके पर मौजूद डंपर को जब्त करने के निर्देश दिए। उन्होंने ओवरलोड तेज रफ्तार डंपरों के खिलाफ अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं। कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि डंपरों की यह दौड़ निर्दोष लोगों की जान के लिए खतरा है। गौरतलब है कि जैन संत आचार्य विद्यासागर महाराज यहां विहार कर रहे हैं, कमल पटेल ने इसके चलते सड़क पर सुरक्षा को लेकर चिंता जताई है।