15 महीने में जोड़ी नंबर-वन ने मप्र को बर्बाद कर दिया: सिंधिया

राहुल लोधी के पक्ष में प्रचार करने पहुंचे ज्योतिरादित्य ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा

दमोह। उपचुनाव में बीजेपी प्रत्याशी राहुल लोधी के पक्ष में प्रचार करने पहुंचे बीजेपी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। कमलनाथ और दिग्विजय को जोड़ी नंबर-वन बताते हुए सिंधिया ने दोनों पर प्रदेश को बर्बाद करने का आरोप लगाया। सिंधिया ने कहा कि मध्य प्रदेश में अगर कोई सबसे बड़ा सौदेबाज है, तो वो कमलनाथ और दिग्विजय सिंह हैं। राहुल लोधी के बारे में बोलते हुए सिंधिया ने कहा कि राहुल लोधी ने न्याय और कुर्सी में से न्याय को चुना। 15 महीने की सरकार में एक सीएम नहीं था। दमोह में जनसभा को संबोधित करते हुए सिंधिया ने कहा कि 15 महीने की कांग्रेस की सरकार, वादा खिलाफी और भ्रष्टाचार की सरकार थी, उस सरकार में सिर्फ एक मुख्यमंत्री नहीं था, बल्कि जोड़ी नंबर-वन थी। इस जोड़ी नंबर-वन ने 15 महीनों में मध्यप्रदेश को लूट प्रदेश बना दिया और अब दमोह में आकर सौदेबाजी की बात करते हैं। 2018 में ये जोड़ी नंबर-वन आपके सामने आई थी तो कहा था कि हर किसान का 2 लाख तक का कर्जा माफ कर देंगे, ये बात तो मुझसे भी कहलवाई गई थी, कांग्रेस के बड़े नेता आकर कहते थे 1 साल नहीं, एक महीना नहीं, 10 दिन में कर्जा माफ करेंगे, नहीं तो मुख्यमंत्री को बदल देंगे। मेरा भी मानना यह था कि जो सीएम अपना वादा नहीं निभा पाया, उसे कुर्सी पर बैठने का हक नहीं।
प्रभु जिताएंगे दमोह का दंगल
भ्रष्टाचारी सरकार को मेरी दादी ने भी उखाड़ फेंका था। दमोह में जनता को संबोधित करते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी दादी राजमाता सिंधिया का भी जिक्र किया। सिंधिया ने कहा कि मेरी दादी ने भी जनता से वादा-खिलाफी करने वाली डीपी मिश्रा की सरकार को उखाड़ फेंका था, और जनता से वादा-खिलाफी हुई तो ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी सरकार को धूल चटा दी। उपचुनाव में जनता ने जोड़ी नंबर-वन को उखाड़कर बता दिया कि जनता किसके साथ है।