जापान 5-1 से आगे, टीम इंडिया के लिए दिलप्रीत सिंह ने दागा एकमात्र गोल

ढाका: हॉकी चैंपियंस ट्रॉफी में भारतीय टीम लगातार दूसरा खिताब जीतने के करीब है। एशियन चैंपियंस ट्रॉफी का सेमीफाइनल मुकाबला टीम इंडिया और जापान के बीच ढाका में खेला जा रहा है।

तीसरे हाफ में भी जापान ने अटैकिंग खेल दिखाया। टीम ने चौथा और पांचवां गोल दागकर भारतीय टीम के लिए वापसी के दरवाजें बहुत हद तक बंद कर दिए।

दूसरे हाफ में भी जापान का पलड़ा भारी
दूसरे क्वार्टर में भारत की जोरदार शुरुआत देखने को मिली और दिलप्रीत सिंह ने शानदार गोल कर भारत को मुकाबले में वापस ला खड़ा किया। जापान ने भी वापसी की और तीसरा गोल दागना चाहा, लेकिन भारतीय गोलकीपर ने गोल को बचा लिया। दूसरे हाफ के खत्म होने से ठीक पहले जापान ने तीसरा गोल दागकर भारत को फिर से पीछे धकेल दिया।

पहले क्वार्टर में जापान ने दिखाया दम
पहले क्वार्टर में जापान की टीम ने कमाल का खेल दिखाया। वो भारतीय टीम पर लगातार अटैक करती नजर आईं। इसका उन्हें फायदा भी मिला। टीम इंडिया ने जापान को 6 पेनल्टी कॉर्नर दिए और जापानी खिलाड़ियों ने भी मौके का फायदा उठाते हुए 2 गोल दाग दिए।

जीत की हैट्रिक लगा चुका है भारत
मौजूदा टूर्नामेंट में भारत की शुरुआत कुछ खास नहीं रही थी। पहले मैच में साउथ कोरिया के खिलाफ स्कोर 2-2 से ड्रॉ रहा था, लेकिन दूसरे मुकाबले में भारतीय टीम ने धमाकेदार वापसी करते हुए बांग्लादेश को 9-0 से हराया था। इसके बाद चिर प्रतिद्वंदी पाकिस्तान को टीम इंडिया ने 3-1 से मात दी थी। आखिरी लीग में टीम ने जापान को 6-0 से हराया था। भारतीय टीम लगातार 3 मैच जीतकर सेमीफाइनल में पहुंची है। 5 देशों के टूर्नामेंट में टीम इंडिया राउंड-रॉबिन मुकाबलों में 10 अंकों के साथ टॉप पर रही थी।

3 बार जीत चुके हैं ये टूर्नामेंट
एशियन चैंपियंस ट्रॉफी का पहला टूर्नामेंट साल 2011 में खेला गया था और टीम इंडिया अभी तक कुल 3 बार इस खिताब को जीत चुकी है। 2011 में भारत ने पाकिस्तान को हराया था, जबकि 2016 में भी पाकिस्तान को 3-2 से हराया टूर्नामेंट पर कब्जा किया था। साल 2018 में भारत और पाक जॉइंट विनर रहे थे। इसके अलावा 2012 में भारतीय टीम रनर-अप रही थी। फाइनल में पाकिस्तान ने भारत को 5-4 से हराया था।

22 दिसंबर को होगा फाइनल
एशियन चैंपियंस ट्रॉफी का फाइनल मुकाबला 22 दिसंबर को ढाका में खेला जाएगा। पहले सेमीफाइनल में साउथ कोरिया ने पाकिस्तान को 6-5 से हराकर फाइनल में जगह बना ली है।