छत्तीसगढ़ में धान खरीदी केंद्रों से चावल के परिवहन में तेजी लाने के निर्देश

मुख्य सचिव अमिताभ जैन ने चावल की गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखने कहा है।
छत्तीसगढ़ में धान खरीदी केंद्रों से चावल के परिवहन में तेजी लाने के निर्देश

रायपुर । चावल के परिवहन में तेजी लाने के मुख्य सचिव अमिताभ जैन ने निर्देश दिए हैं। जैन ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक लेकर कस्टम मिलिंग के लिए अनुबंधित मिलरों की पूरी मिलिंग क्षमता के साथ धान की मिलिंग करने और एफसीआइ के निर्धारित रैक पाइंट तक पहुंचाने के निर्देश दिए है। उन्होंने एफसीआइ के गोदामों में प्रतिदिन 15 हजार टन चावल जमा करना सुनिश्चित करने के लिए कहा है।

मुख्य सचिव अमिताभ जैन ने चावल के परिवहन के लिए रेलवे ने अतिरिक्त समान खाली कर वापस जाने वाले कानकार (कंटेनर कार्पोरेशन आफ इंडिया लिमिटेड) के कंटेनर का भी उपयोग करने का सुझाव दिया है। उन्होंने चावल के अधिक मात्रा में परिवहन के लिए चिन्हित जिलों के आसपास रेलवे के लिए अतिरिक्त रैक पाइंट निर्धारित करने कहा है। उन्होंने चावल की गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखने कहा है।

बैठक में अधिकारियों ने बताया कि अब तक एफसीआइ में कुल एक लाख 97 हजार 604 टन और नान में 92 हजार 683 टन चावल जमा किया जा चुका है। बैठक में सचिव खाद्य टोपेश्वर वर्मा, नोडल अधिकारी और विशेष सचिव खाद्य मनोज सोनी, प्रबंध संचालक राज्य नागरिक आपूर्ति निगम निरंजनदास, ओएसडी मोहम्मद कैसर अब्दुल हक, प्रबंध संचालक मार्कफेड किरण कौशल उपस्थित थे।

राज्य में धान खरीदी का आंकड़ा 52 लाख टन से पार

राज्य में बीते 28 दिनों में 13 लाख 64 हजार 429 किसानों से 52 लाख 21 हजार 803 टन धान की समर्थन मूल्य पर खरीदी की गई है। किसानों से 2,484 धान उपार्जन केंद्रों के माध्यम से धान खरीदी की जा रही है। धान खरीदी के एवज में इन किसानों को 9,150.68 करोड़ बैंक लिंकिंग व्यवस्था के तहत मार्कफेड द्वारा जारी कर दिया गया है। खरीदी केसाथ ही मुख्यमंत्री बघेल की पहल पर इस वर्ष धान खरीदी के साथ-साथ कस्टम मिलिंग के लिए धान का उठाव भी तेजी से हो रहा है। अब तक 19 लाख 05 हजार 318 टन का डीओ जारी कर दिया गया है। मिलरों ने इसमें से 14,93,886 टन धान का उठाव कर लिया है।