एसईआर की 74 ट्रेनों को ओबीएचएस सेवाएं प्रदान की गईं

2021: दक्षिण पूर्व रेलवे (एसईआर) ने अब तक का सबसे अधिक लोडिंग कार्य निष्पादन किया
सकल विभाजित राजस्व (15,079 करोड़) पिछले वर्ष की तुलना में 14.86% अधिक

संकरेल-फ्रेट टर्मिनल, कलाईकुंडा-झारग्राम तीसरी लाइन खंड का काम पूरा और उद्घाटन किया गया
2021 के दौरान 16 रोड अंडरब्रिज (आरयूबी) और 5 रोड ओवरब्रिज (आरओबी) का निर्माण

माल ढुलाई और राजस्व के मामले में दक्षिण पूर्व रेलवे के लिए वर्ष 2021 उत्कृष्ट साल रहा। पिछले वर्ष के दौरान एसईआर की कई उल्लेखनीय उपलब्धियां हैं, जो इस प्रकार हैं:

1.   हावड़ा-मुंबई मेनलाइन के अंदुल-झारसुगुड़ा सेक्शन पर 130 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेन का परिचालन शुरू हो गया है

2.   2020-21 में प्राप्त की गई 175.4 एमटी की लोडिंग क्षमता एसईआर का अब तक का सबसे अधिक लोडिंग कार्य निष्पादन है।

3.   कैलेंडर वर्ष 2021 (नवंबर तक) के लिए सकल विभाजित राजस्व 15079 करोड़ था जो पिछले वर्ष की तुलना में 14.86% अधिक है।

4.   प्रवाह क्षमता में सुधार के लिए बीओएक्सएनएचएल के 67 रेकों को 25टी एक्सल लोड में परिवर्तित किया गया है।

5.   स्वच्छ भारत अभियान के तहत वर्ष 2021 में एसईआर की सभी चिन्हित 74 ट्रेनों को ओबीएचएस सेवाएं प्रदान की गईं।

6.   पारंपरिक डिब्बों के 11 रेक सहित 9 ट्रेनों को एलएचबी में बदला गया।

7.   संकरेल-फ्रेट टर्मिनल का चरण-1 कार्य पूरा और माननीय रेल मंत्री ने 19.02.2021 को इसका उद्घाटन किया।

8.   कलाईकुंडा-झारग्राम तीसरी लाइन खंड चालू किया गया और माननीय प्रधानमंत्री ने 22.02.2021 को उद्घाटन किया था।

9.   सड़क यातायात सुरक्षा में सुधार को लेकर वर्ष 2021 में 16 रोड अंडरब्रिज और 5 रोड ओवरब्रिज का निर्माण कर 32 समपार (लेवल क्रॉसिंग्स) को बंद कर दिया गया।

10.  वर्ष 2021 में दक्षिण पूर्व रेलवे के विभिन्न स्टेशनों पर 4 नई पैसेंजर लिफ्ट और 1 एस्केलेटर शुरू किया गया।

11. पिछले वर्ष के 227.42 टीकेएम की तुलना में वर्ष 2021 में 406.18 टीकेएम विद्युतीकरण किया गया।

12. भारतीय रेल के सभी जोनों में सबसे ज्यादा बिजली इंजन स्वामित्व में से वर्ष 2021 में 1064 इंजन हासिल किए गए।

13. मार्च 2021 में सीकेपी मंडल के राउरकेला स्टील प्लांट में नया ट्रैक्शन सब-स्टेशन (132KV/25KV) चालू किया गया था।

14. 11 स्टेशनों (बाल्टीकुरी, गिधनी, चाकुलिया, कलुंगा, राजगांगपुर, झिंकपानी, रंगरा, मुराडीह, सुदामडीह, बोकारो ई कैबियन और लोधमा) में इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग किया गया और 8 स्टेशनों (झारग्राम, बगदेही, सरडेगा, बालसिरिंग, मुरी, झारसुगुड़ा गुड्स यार्ड, झारसुगुड़ा पैसेंजर यार्ड और गोकुलपुर) में सुधार किया गया।

15. यात्रियों की सुरक्षा के लिए 28 स्टेशनों पर सीसीटीवी सिस्टम लगाए गए हैं।

16. सिग्नलिंग सिस्टम को निर्बाध बिजली आपूर्ति के लिए 41 आईपीएस सिस्टम स्थापित किए गए।

17. एसईआर की हरित पहल के तहत पर्यवेक्षी प्रशिक्षण केंद्र, केजीपी ने फरवरी 2021 में इंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल (आईजीबीसी) ग्रीन एक्जिसिटिंग बिल्डिंग रेटिंग सिस्टम “गोल्ड” प्रमाणीकरण हासिल किया।

18. दक्षिण पूर्व रेलवे के विभिन्न अस्पतालों में कोविड में कमी लाने के उपायों के तहत 1,43,825 कोविड वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी हैं। सेंट्रल हॉस्पिटल जीआरसी में 1 एलएमओ टैंक लगाया गया है।

19. दक्षिण पूर्व रेलवे के रांची मंडल में ट्रेनों में यात्रा करने वाली महिलाओं और लड़कियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए विशेष महिला आरपीएफ कमांडो टीम का गठन किया गया है।

20. सुपर क्रिटिकल प्रोजेक्ट मोनाहरपुर-बंडामुंडा (ए) तीसरी लाइन (30 किमी) की बिसरा-बंडामुंडा (ए केबिन) (4.2 किमी) को 24.08.2021 को शुरू किया गया।

21.      बंडामुंडा-रांची का बालसिंग-लोधमा (9.9 किमी) का दोहरीकरण 30.12.2021 को चालू किया गया।

     (ए)    2021 में पूरा हुआ महत्वपूर्ण पुल

22. पुल संख्या 124 [9×45.7(OWG)+1×18.3(CG)] राउरकेला-झारसुगुड़ा तीसरी लाइन (101.4 किमी) से संबंधित पुल का निर्माण पूरा।

23. पुल संख्या (IB Bridge) खंड (11×45.7 m TG) झारसुगुड़ा-केचोबहल (20 किमी) से जुडे संबंधित पुल पूरा हुआ।

     (बी)     2021 में यार्ड को फिर से बनाने का काम पूरा हुआ

24. संकरेल गुड्स टर्मिनल यार्ड का प्रथम चरण का कार्य पूरा कर चालू किया गया और 19.02.2021 को माननीय रेल मंत्री द्वारा इसका उद्घाटन किया गया।

25. नॉन इंटरलॉकिंग (एनआई) 15 (11+4) दिनों के बाद झिंकपानी यार्ड में दोबारा से यार्ड बनाने का काम 11.09.2021 को किया गया।

26   झारसुगुड़ा गुड्स यार्ड 05.12.2021 को चालू किया गया।

27   झारसुगुड़ा पैसेंजर यार्ड 06.12.2021 को शुरू किया गया।

28   नॉन इंटरलॉकिंग (एनआई) के बाद तीसरी लाइन के काम को समायोजित करने के लिए कलुंगा यार्ड को दोबार से बनाने का काम किया गया।

     (सी)     मकान जो 2021 में पूरे हुए।

29. भागा में (2020-21 का पीबी आइटम नंबर 544) टाइप-II मकान के 12 यूनिट बनाए गए और इसे ओपन लाइन को सौंप दिया गया।

30   हटिया में टाइप -IV मकान की 4 इकाइयां पूरी हो चुकी हैं और अप्रैल 21 में रहने वालों को आवंटित की गई।

     (डी)  अन्य महत्वपूर्ण कार्य जो 2021 में पूरे किए गए

31. डब्लूबीएसईटीसीएल द्वारा टीएसएस के कांटी/टीएसएस-132 केवी में पृथक्करण की सुविधाएं 18.03.2021 को पूरी की गईं। 

32. गोविंदपुर स्टेशन पर 21.07.21 को प्लेटफार्म नंबर 1 पर प्लेटफार्म शेल्टर बनकर तैयार हो गया।

33. देउल्ती-मेचेडा (7.5 किमी) के ऑटो सिग्नलिंग कार्यों में बदलाव 11.09.2021 को पूरा कर चालू कर दिया गया।

34. एमसीएल परियोजना के लिए सरदेगा में अतिरिक्त लोडिंग लाइन 01.09.2021 को पूर्ण और चालू की गई।

वर्ष 2021 में खेल प्रदर्शन

अंतर्राष्ट्रीय चैम्पियनशिप

35. सुश्री निक्की प्रधान, सुश्री सलीमा टेटे (हॉकी) और सुश्री सुतीर्थ मुखर्जी (टेबल टेनिस) ने टोक्यो ओलंपिक 2020 में राष्ट्रीय टीम का प्रतिनिधित्व किया। सुश्री प्रधान और सुश्री सलीमा टेटे चैंपियनशिप में चौथे स्थान पर रहीं।

36. श्री जावेद अली खान ने वर्ल्ड बॉडी बिल्डिंग चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व किया और दूसरा स्थान हासिल किया।

37. सुश्री निक्की प्रधान कोरिया में होने वाली सीनियर महिला हॉकी एशियन चैंपियनशिप ट्रॉफी के लिए चुनी गईं।

38. सुश्री सलीमा टेटे और सुश्री संगीता कुमारी को एफआईएच जूनियर महिला विश्व कप के लिए चुना गया है।