यूपी चुनाव: टिकट बांटने में कांग्रेस अव्वल

उन्नाव रेप पीडि़ता की मां को भी उतारा चुनावी मैदान में
कांग्रेस ने जारी की 125 प्रत्याशियों की पहली सूची
लखनऊ, 13 जनवरी।
उत्तर प्रदेश में कांग्रेस ने 125 प्रत्याशियों की पहली लिस्ट जारी कर दी है। इनमें 50 महिलाओं के भी नाम शामिल हैं। ज्यादातर वो महिलाएं हैं, जो किसी न किसी तरह से योगी शासनकाल के दौरान प्रताडऩा का शिकार हुई हैं। इनमें उन्नाव रेप पीडि़ता की मां भी शामिल हैं।
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने प्रेस कॉन्फें्रस के दौरान विधानसभा चुनाव लडऩे वाली महिलाओं के नाम खुद पढ़े। महिला प्रत्याशियों के नामों का एलान करते हुए उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार बनाई गई सभी महिलाएं संघर्ष करने वाली हैं। उन्होंने कहा कि बड़ी बात यह है कि कांग्रेस ने उन्नाव मे बलात्कार पीडि़त युवती की मां आशा देवी को टिकट दिया है। उन्होंने कहा कि उनका मकसद सत्ता के दम पर अत्याचार के शिकार हुए लोगों के हाथों में सत्ता देकर अत्याचार के खिलाफ खड़ा होने की ताक़त देना है और उनकी पार्टी इस काम में हर पीडि़त नागरिक की पूरी मदद करेगी। श्रीमती वाड्रा ने कहा कि वह सामाजिक सशक्तिकरण को बढ़ावा दे रही है और इस काम में प्रदेश की आधी आबादी को मजबूती प्रदान कर रही है। इसके लिए उन्होंने चुनाव में ज्यादा से ज्यादा महिला उम्मीदवारों को टिकट देने का निर्णय लिया। इसी का परिणाम है कि पहली सूची में 40 फीसदी महिलाओं को टिकट दिया गया है। उन्होंने कहा कि महिलाओं को ऊर्जावान और सशक्त बनाने के लिए उन्होंने जो कदम उठाए हैं, वे सफल हो रहे हैं और उसी का परिणाम है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को महिलाओं का सम्मेलन करना पड़ा, उत्तर प्रदेश सरकार को महिलाओं की बेहतरी के लिए घोषणा करनी पड़ी, समाजवादी पार्टी तथा बहुजन समाज पार्टी महिला सम्मेलनों का आयोजन कर रही है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में महिलाओं को उन्होंने जो तरजीह दी है, उसकी वजह से महिलाएं सशक्त हो रही हैं और राजनीतिक विमर्श के केंद्र में आ गई हैं। अब कोई राजनीतिक दल चुनाव में महिलाओं की अनदेखी नहीं कर सकता। यही उनके संघर्ष की सबसे बड़ी सफलता है।