उत्पल ने कर दिया एलान, पणजी सीट से निर्दलीय लड़ूंगा चुनाव

गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar) के बेटे उत्पल पर्रिकर (Utpal Parrikar) ने ऐलान किया है कि वो निर्दलीय चुनाव मैदान में उतरेंगे. उत्पल कहा कि मैं पणजी निर्वाचन क्षेत्र से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ूंगा. उत्पल ने सीट का एलान करते हुए कहा कि मैं सत्ता या किसी पद के लिए नहीं लड़ रहा हूं, मैं अपने पिता के मूल्यों के लिए लड़ रहा हूं, भाजपा के पुराने कार्यकर्ता मेरे साथ हैं.

उत्पल को भाजपा (BJP) ने टिकट नहीं दिया था, जिसके बाद आम आदमी पार्टी ने उत्पल से आप के टिकट पर चुनाव लड़ने का भी ऑफर दिया था. आम आदमी पार्टी (AAP) के गोवा उपाध्यक्ष वाल्मीकि नाईक ने बयान देते हुए कहा था कि अगर उत्पल पर्रिकर पणजी सीट से ‘आप’ के टिकट पर चुनाव लड़ना चाहते है तो मैं उनके लिए अपनी उम्मीदवारी छोड़ने को तैयार हूं. अरविंद केजरीवाल ने पहले ही कहा था कि हम पर्रिकर जी का बहुत सम्मान करते है, अब फैसला उत्पल को लेना है. केजरीवाल ने कहा था कि यदि गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर उनकी पार्टी में शामिल होना चाहें तो उनका स्वागत है.

बीजेपी ने नहीं दी तवज्जो

उत्पल पर्रिकर पणजी विधानसभा क्षेत्र से BJP का टिकट लेने के लिए प्रयास कर रहे थे, हालांकि सत्तारूढ़ दल ने इसे कोई खास तवज्जो नहीं दी. इस सीट का प्रतिनिधित्व उनके पिता ने दो दशक से अधिक समय तक किया था. गोवा में विधानसभा चुनाव 14 फरवरी को होगा. भारतीय जनता पार्टी (BJP) और कांग्रेस के अलावा आप तथा ममता बनर्जी की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्रेस भी चुनाव मैदान में है. इन दलों के अलावा अन्य राजनीतिक दल भी चुनावी अखाड़े में हैं.

अभी पणजी सीट पर बीजेपी का कब्जा

पणजी विधानसभा सीट पर अभी BJP का कब्जा है और अतानासियो मोनसेराते इस सीट से विधायक हैं. हाल ही में BJP के गोवा चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडणवीस ने उत्पल पर्रिकर पर निशाना साधते हुए कहा था कि कोई भी व्यक्ति सिर्फ इस वजह से टिकट पाने के योग्य नहीं हो जाता कि वह मनोहर पर्रिकर या किसी अन्य नेता का बेटा है.