मुख्य सचिव ने मुख्यमंत्री की घोषणाओं के क्रियान्वयन पर चिंता जताई

विजय कुमार दास
रायपुर, २० फरवरी। छत्तीसगढ़ राज्य के नए मुख्यसचिव 1983 बैच के अजय सिंह ने पद संभालने के बाद सबसे पहला काम यह किया है कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह द्वारा 14 वर्षों के कार्यकाल में कितनी घोषणाएं की गई और उसका क्रियान्वयन आज तक छत्तीसगढ़ जनता के हित में कितना हुआ है इस विषय पर गंभीरता दिखाई है। सूत्रों के अनुसार मुख्यसचिव ने सभी विभागों के प्रमुख सचिवों एवं सचिवों से यह रिपोर्ट मांगी है कि उनके विभाग से संबंधित मुख्यमंत्री की कितनी घोषणाओं पर अब तक अमल हो पाया है। सूत्रों के अनुसार जब मुख्य सचिव ने प्रांरभिक जानकारी हासिल की तो उन्हें पता चला कि पंचायत एवं ग्रामीण विकास, शहरी विकास एवं वन विभाग के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री की घोषणाओं पर लगभग 85 प्रतिशत अमल किया है। जबकि दूसरी ओर शिक्षा विभाग फिसड्डी साबित हुआ और आदिवासी विभाग 68 प्रतिशत क्रियान्वयन के साथ दूसरे नंबर पर है। बताया जाता है कि मुख्य सचिव ने निर्देश दिये हैं कि 31 मार्च के पहले यह सुनिश्चित किया जाए कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह द्वारा सावजर्निक सभाओं में किये गये घोषणाओं का अनुपालन तथा उसकी सीमा तय हो।