प्रधानमंत्री के निर्देश पर नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया सहित तीन मंत्रियों ने निभाई अहम भूमिका २६ फ्लाइटों से १७००० भारतीय लौटे

भोपाल, 2 मार्च। यूके्रन में फंसे भारतीयों को वापस लेने के लिए केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया यूके्रन के पड़ोसी मुल्क रोमानिया की राजधानी बुखारेस्ट पहुंच गए हैं। उन्होंने कैंप में रह रहे भारतीय छात्रों से मुलाकात कर हालचाल जाने और जल्द वापस लेने जाने के लिए फ्लाइट के बंदोबस्त की जानकारी दी।

केंद्रीय नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया बुखारिस्ट में हैं। उन्होंने बुधवार को उस कैंप में पहुंचे, जहां यूके्रन की बार्डर पार करके भारतीय छात्र पहुंचे थे। सिंधिया ने छात्रों से बात कर उन्हें चिंता नहीं करने की बात कही। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने केंद्रीय मंत्रियों को आपकी सुरक्षित घर वापसी के लिए भेजा है। एक के बाद एक 26 फ्लाइटों से आपको भारत पहुंचाया जा रहा है। सिंधिया के साथ ही केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी वोरसा, वीके सिंह, किरेन रिजिजू स्लोवाकिया में हैं। ज्योतिरादित्य सिंधिया के बुखारिस्ट में छात्रों के साथ हुए संवाद का एक वीडियो राज्यसभा सदस्य डॉ. विनय सहस्बबुद्धे ने ट्वीट किया है। जिसमें सिंधिया भारतीय छात्रों के साथ संवाद करते नजर आ रहे हैं। पिछले सप्ताह ही यूके्रन संकट को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक उच्चस्तरीय बैठक बुलाई थी, जिसमें भारतीयों की सुरक्षित घर वापसी के लिए केंद्रीय मंत्रियों को यूके्रन के पड़ोसी देशों में जाने और समन्वय की जिम्मेदारी दी गई थी। मोदी सरकार के इन मंत्रियों को वहां फंसे लोगों के साथ समन्वय और छात्रों की मदद को लेकर काम करने को कहा है।

जिन्हें यह जिम्मेदारी दी गई है उनमें केंद्रीय नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, हरदीप सिंह पुरी, किरेन रिजिजू और जनरल (सेवानिवृत्त) वीके सिंह शामिल हैं। गौरतलब है कि पीएम मोदी ने रविवार को कहा था कि भारतीय छात्रों की सुरक्षा और उनकी जल्द वापसी सुनिश्चित करना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है।