ऐतिहासिक होगा दतिया गौरव दिवस : नरोत्तम मिश्रा

मां पीताम्बरा जयंती पर हेलीकॉप्टर से होगी पुष्प वर्षा
दतिया।
मां पीताम्बरा जयंती एवं दतिया गौरव दिवस का आयोजन ऐतिहासिक हो इसके लिए की जाने वाली तैयारियों एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा प्रदेश के ग्रह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने रविवार को पीताम्बरा मंदिर प्रांगण में आयोजित बैठक में की। आयोजन के संबंध में उपस्थितजनों ने अपने-अपने सुझाव भी दिए। गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने कहा कि आयोजन हेतु जो समितियां गठित की गई है। उन्हें जो जबावदेही आयोजन हेतु सौंपी गई है। उसे पूरी निष्ठा एवं सर्म्पण की सेवा भावना से कार्य करें। उन्होंने कहा कि दतिया में 4 मई को मां पीताम्बरा जयंती दतिया गौरव दिवस पर बाहर से आने वाले प्रत्येक व्यक्ति हमारा मेहमान है। इस भाव को लेकर प्रत्येक दतियावासी अतिथि देवों भव: के रूप में आदर सत्कार करना है। जिससे बाहर से आने वाले अतिथि को किसी भी प्रकार की परेशानी न हो। जिले के ऐसे नागरिक जो प्रदेश सहित देश एवं विदेशों में विभिन्न क्षेत्रों में अपनी सेवायें देकर जिले का नाम रोशन कर रहे है। उन लोगों को भी विधिवत समय पूर्व आमंत्रण भेजे जाए। जिससे वह इस आयोजन में सहभागी बन सके और दतिया के विकास में अपना योगदान दें सके। 4 मई को निकलने वाले मां पीताम्बरा रथ यात्रा के मार्ग का जीर्णोद्धार कार्य कराने के संबंधित विभाग को उन्होंने निर्देश दिए। बैठक में बताया गया कि 4 मई को हैलीकॉप्टर से पुष्पवर्षा की जायेगी। रथ के मार्ग पर लाल कारपेट भी बिछाया जायेगा। बैठक के माध्यम से नगर में स्थित होटल संचालकों से भी आग्रह किया गया कि 4 मई को माँ पीताम्बरा जयंती पर सभी होटल संचालक बाहर से आने वाले अतिथियों को नि:शुल्क सेवा देंगे। रेलवे स्टेशन एवं बस स्टैण्ड़ पर बाहर से आने वाले अतिथियों के स्वागत किए जाने हेतु स्वागत काउंटर भी बनाये जायेंगे। वाहनों से आने वाले श्रृद्धालुओं के वाहनों की पार्किग की व्यवस्था नगर के प्रवेश करने से पूर्व अलग-अलग स्थानों पर रखी जायेगी।बैठक में माँ पीताम्बरा के रथ के साथ ही स्वामी जी के रथ निकालने पर चर्चा की गई। 26 अप्रैल तक रथ पहुंचने की संभावना सूत्रों ने बताया कि समितियों की निरंतर बैठकें आयोजित की जा रही है। उन्होंने बताया कि रथ यात्रा के दौरान निकलने वाला रथ 26 अप्रैल को दतिया पहुंचने की संभावना है। यह रथ मैटल से निर्मित किया गया है। पीताम्बरा पुलिस चौकी को कंट्रोल रूम के रूप में भी बनाया जायेगा। जिससे किसी भी व्यक्ति को असुविधाहोने पर तत्काल सहायता प्राप्तन कि जा सके।