हरदा जिला अब पूरी तरह से हाईटेक

विशेष रिपोर्ट: अनीता चौबे (मो. 9893288371)
मध्यप्रदेश शासन द्वारा हितग्राही मूलक योजनाओं से वंचित रहे सभी नागरिको तक सेवाओं का लाभ पहुँचाने के उद्देश्य से प्रदेश में चलाये जा रहे ‘जन सेवा अभियान के अंतर्गत प्रशासन स्वयं नागरिको तक पहुँचकर उन्हें सेवाओं का लाभ पहुँचा रहा है। इसी कड़ी में जिला प्रशासन द्वारा तकनीकी का स्तेमाल करके प्रशासन एवं आम नागरिकों के बीच की दूरी को ओर कम करने का प्रयास किया गया है। हरदा प्रदेश का ऐसा पहला जिला बन गया है जो पूरी तरह से हाईटेक हो गया है। हरदा के सांसद डीडी उइके ने हर दम हरदा एप का लोकापर्ण कर हरदावासियों के यह सौगात दी। आम लोग अब प्रशासन से इस एप के जरिये सीधे संवाद कर पायेगा, जिसके लिये प्रशासन ने बकायदा व्हाट्सएप नंबर 8226006666 भी जारी किया जिससे जरिये जिला प्रशासन ने आम जन से शिकायत सुझाव के आवेदन मंगाने भी शुरू कर दिये हैं। इसके साथ ही जिले में किसान क्रेडिट कार्ड का डिजिटलाइजेशन भी प्रार्भ हो गया। इस अवसर पर उपस्थित कलेक्टर हरदा ऋषि गर्ग ने बताया कि हरदा को हाईटेक करने के पीछे स्थानीय विधायक एवं प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल की इच्छा शक्ित थी, कमल पटेल चाहते थे कि कोई ऐसी व्यवस्था बनाई जाये जिससे कि उनके जिले के आम लोगों को दर-दर भटकना ना पड़े और उनकी समस्याऐं प्रशासन तक सीधे और जल्दी पहुंच पायें, जिससे कि उनका निराकरण भी समय पर पूरा हो सके। हरदा कलेक्टर ऋषि गर्ग ने बताया कि कृषि मंत्री कमल पटेल की इसी इच्छा शक्ति के चलते जिला प्रशासन ने हरदा जिले के नागरिकों के लिए व्हाट्सएप सेवा हरदम हरदा एप को डिजाइन करके इसका शुभार्भ कर दिया। हरदा कलेक्टर ने राष्ट्रीय हिन्दी मेल के इस प्रतिनिधि से दूरभाष पर चर्चा के दौरान बताया कि चूंकि व्हाट्सएप डिजिटल क्रांति के इस युग में सबसे सरल एवं सुगम माध्यम के रूप में उपलब्ध है। इसलिए किसी नये एप को बनाने का ख्याल लाये बिना व्हाट्सएप को ही लोगों से कनेक्ट होने का माध्यम बनाया गया है इस ऐप सेवा के जरिये हरदा जिले के दूर दराज के गाँवों में बसने वाले और आम नागरिक सीधे इस एप के माध्यम से जिला प्रशासन से जुडकर, अपनी माँग, सुझाव और शिकायतें प्रशासन को भेजकर उनका त्वरित निराकरण करा सकते है। आवेदन कर्ता को इस एप के जरिये आवेदन करने पर प्रशासन तुरन्त ही पावती की पीडीएफ, आवेदक और शिकायतकर्ता को व्हाट्सएप पर पहुंचा देगा। हरदा कलेक्टर ऋषि गर्ग ने बताया कि इतना ही नहीं उक्त शिकायत स्बधित विभाग के जिला अधिकारी को भी व्हाट्सएप पर ही भेज दी जायेगी जिससे कि बिना विल्ब उक्त शिकायतों का निराकरण स्बधित विभाग अधिकारी शिकायत कर्ता आवेदक से स्पर्क करके जल्दी से जल्दी आवेदक की शिकायतों का निराकरण किया जा सके।