पुलिस अधीक्षक रेत माफियाओं के खिलाफ करेंगे सख्त कार्यवाही शिवपुरी में ठेका निरस्त लेकिन फर्जी रायल्टी से रेत का अवैध व्यापार जोरों पर

ग्वालियर से खास-खबर: कृष्णकांत समाधिया
मध्यप्रदेश में रेत व्यापार को लेकर अवैध उत्खनन के मामले आये दिन सुर्खियों में रहते हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तो रेत माफिया और खनिज माफियांओं के अवैध कारोबार को रोकने के लिए जिला प्रशासन तथा पुलिस प्रशासन को कई बार पूरे मध्यप्रदेश में चेतावनी दे चुके हैं। लेकिन शिवपुरी जिले में करेरा तहसील के सिहोरा थाना क्षेत्र में एक ग्राम पंचायत में रियल स्टेट से जुड़ी कंपनी द्वारा बकायदा पंडुब्बी एवं एलएनटी मशीनों के माध्यम से अवैध रेत का उत्खनन जारी है। प्रशासन के सूत्र कहते हैं कि पुराना भण्डारन है जिससे रेत की निकासी की जा रही है जबकि चश्मदीद किसानों का मानना है कि यह रियल स्टेट कंपनी भंडारन के नाम पर रसीदे काट-काट कर मशीनों से अवैध उत्खनन तो कर रहा है लेकिन साथ ही में गाँव के किसानों को आतंकित भी करता है, गांव वालों ने बताया है कि जिस भंडारन की बात की जाती है वहां पर एक च्मच रेत है ही नहीं। सूत्रों के अनुसार पाँच महीनों से लगभग 5 करोड़ की खनिज राजस्व हानि का सरकार को नुकसान पहुंचाया जा चुका है। और तो और पुलिस थाने में गाँव वालों की शिकायत को भी संज्ञान में नहीं लिया जाता और ऐसी शिकायतें कई बार सामाजिक संगठनों ने वहां के जिला कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक से की है। परंतु कार्यवाही नहीं होने से शिकायत कर्ताओं को पुलिस से मिली भगत होने की शंका हो रही है। राष्ट्रीय हिन्दी मेल की पड़ताल में यह पता चला है कि जिले के पुलिस अधीक्षक राजेश चंदेल ने यह स्पष्ट शब्दों में यह कहा है कि वे मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार किसी भी रेत माफिया को जिले में अवैध व्यापार नहीं करने देंगे। चंदेल के अनुसार जिला कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह इस प्रकार की किसी भी गतिविधियों को लेकर हमेशा गंभीर रहते हैं, और तुरंत कार्यवाही करने के निर्देश प्रसारित करते है। सूत्रों के अनुसार चंदेल ने जिस ग्राम पंचायत की शिकायत का जिक्र किया जा रहा है वहां कल ही टीम भेजकर रेत माफियांओं को नेस्तनाबूत किये जाने के लिए टीम भेजने का फैसला कर लिया है और कहा है कि अवैध कारोबार से जुड़े किसी भी क्षेत्र के, किसी भी व्यक्ति को छोड़ा नहीं जायेगा, जरूरत पड़ेगी तो उसके खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत कार्यवाही भी की जायेगी।