मोदी-शाह की नजर गुजरात में लेकिन मन लगा है मध्यप्रदेश मे

मोदी-शाह की नजर गुजरात में लेकिन मन लगा है मध्यप्रदेश मे, ग्वालियर-चंबल तीन बड़े नेताओं का ध्यान आया
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह दोनों की नजर इस समय गुजरात राज्य विधानसभा का लक्ष्य भेदने के अलावा किसी और मुद्दे पर नहीं टिकी हुई है। परंतु सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मोदी शाह की युगल जोड़ी ने अब गुजरात चुनाव के चलते अपना सारा ध्यान मध्यप्रदेश की वैकल्पिक राजनीति में लगा दिया है। जानकारों का कहना है कि गुजरात चुनाव के समाप्त होते ही नरेन्द्र मोदी और अमित शाह ग्वालियर-चंबल संभाग के तीन बड़े नेताओं के चेहरा आगे लाने की रणनीति पर काम करने वाले है। ग्वालियर-चंबल के इन तीन बड़े नेताओं में महाराजा ज्योतिरादित्य सिंधिया प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की एकमात्र पसंद बताये जा रहे है, लेकिन विचार मंथन में केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र तोमर तथा मध्यप्रदेश के गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा का भी नाम सुपर स्टारों में शामिल है। यह कोई चौंकाने वाला वाक्या नहीं होगा, यदि गुजरात चुनाव के बाद नरेन्द्र मोदी मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से यह कहने में नहीं हिचके कि 2023 का विधानसभा चुनाव मध्यप्रदेश में भाजपा के लिए सबसे बड़ी चुनौती है, इसलिए समन्वय का मार्ग अपनाईये। ऐसी स्थिति में ज्योतिरादित्य सिंधिया के चेहरे को आगे लाकर सभी नेताओं से यह कह दिया जाये कि चुनाव जीतना है तो 2023 और 2024 दोनों की तैयारी करो। और इसके लिए जरूरी है सिंधिया के साथ चलो…। खबरची