राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा पुन: स्थापित हुए पचौरी मजबूत हुये जीतू पटवारी

मध्यप्रदेश में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा मालवा अंचल से राजस्थान प्रवेश करेगी, लेकिन समूची यात्रा में राहुल गांधी जिस संदर्भों को बटोर कर जा रहे है। उनमें दो महत्वपूर्ण घटनाएं भी शामिल है, पहली घटना तो यह है कि, राहुल गांधी की भारत जोड़़ो यात्रा का पड़ाव आज जिस स्थान पर था वह स्थान पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुरेश पचौरी के समर्थक विधायक संजय शुक्ला के नियंत्रण वाली जगह थी, जहा पर राहुल गांधी ने मीडिया से बातचीत की। इसी तरह दूसरी घटना जिसमें राहुल गांधी बुलट मोटर सायकल चलाते हुए दिखे और उसके पीछे भाग रहे थे जीतू पटवारी। और इस दौरान राहुल गांधी ने पूरी यात्रा में 10 बार जीतू पटवारी का नाम लिया, मतलब यह लिखने में संकोच नहीं है कि पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुरेश पचौरी की अहमियत, ताकत और वजूद आज भी कांग्रेस पार्टी में गांधी परिवार के साथ बिना बाधा के काम पर है दूसरी तरफ पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने यह स्थापित कर दिया है कि, मालवा अंचल में जीतू पटवारी को कोई तोड़ नहीं है। उल्लेखनीय है कि जीतू पटवारी आज की तारीख में ओबीसी वर्ग के कांग्रेस में सबसे बड़े नेता हो चुके है और उनकी जरूरत का एहसास राहुल गांधी को हमेशा रहता है। इस बात की पुष्टि के लिए बहुत दूर जाने की जरूरत नहीं है। संदर्भ पुराना है कि पहली बार राहुल गांधी मालवा में जीतू पटवारी के साथ मोटर सायकल पर सवार होकर चले थे और अब दूसरी बार भी बुलट मोटर सायकल पर सवार राहुल गांधी ने जीतू पटवारी को महत्वपूर्ण बता दिया है। इसमें संदेह नहीं है…। खबरची